कीर्तिमान! मुथैया मुरलीधरन के बाद ऐसा करने वाले दुनिया के इकलौते गेंदबाज बने अश्निन

नई दिल्ली । भारतीय क्रिकेट टीम के अनुभवी स्पिनर आर अश्विन ने अहमदाबाद टेस्ट की दूसरी पारी में एक खास उपलब्धि हासिल की। इस मैच के दौरान उन्होंने टेस्ट क्रिकेट में अपना 400वां विकेट हासिल किया। अश्विन ने इस मामले में दुनिया के बड़े बड़े गेंदबाजों को पीछे छोड़ा है। श्रीलंका के महान गेंदबाज मुथैया मुरलीधरन के बाद सबसे तेज 400 टेस्ट विकेट लेने वाले अश्विन दूसरे गेंदबाज हैं।

अश्विन ने अहमदाबाद टेस्ट के दौरान एक और खास उपलब्धि हासिल की। अश्विन अब 400 टेस्ट विकेट लेने वाले गेंदबाजों की लिस्ट में शामिल हो गए हैं। पहली पारी में इंग्लैंड के खिलाफ 3 विकेट हासिल करने वाले इस फिरकी गेंदबाज ने दूसरी पारी में तीसरा विकेट झटकने के साथ ही यह बड़ी सफलता हासिल की। 400 विकेट लेने के साथ ही उन्होंने विश्व क्रिकेट में 600 विकेट भी पूरे किए।

400 टेस्ट विकेट लेने वाले गेंदबाज

अश्विन ने 77वें टेस्ट में मैच में 400वां विकेट हासिल कर एक नया कीर्तिमान स्थापित किया। भारत की तरफ से सबसे तेज ऐसा करने वाले गेंदबाज बन गए हैं। वहीं इंटरनेशनल क्रिकेट में मुरलीधरन के बाद ऐसा करने वाले दूसरे गेंदबाज हैं। श्रीलंका के इस दिग्गज ने 72 टेस्ट खेलकर 400वां टेस्ट विकेट हासिल किया था।

न्यूजीलैंड के रिचर्ड हैडली ने 80 टेस्ट खेलने के बाद इस मुकाम का हासिल किया था तो वहीं साउथ अफ्रीका के तेज गेंदबाज डेल स्टेन में भी 80 मैच ही लिए थे। श्रीलंका पूर्व स्पिनर रंगना हेरात ने 84 टेस्ट खेलने के बाद अपने 400 टेस्ट विकेट चटकाए थे। अश्विन टेस्ट मैचों में 400 विकेट लेने वाले दुनिया के 16वें और भारत के चौथे गेंदबाज बन गए हैं। वह छठे स्पिनर हैं, जिन्होंने टेस्ट मैचों में 400 विकेट लिए हैं। भारत की तरफ से उनसे पहले अनिल कुंबले (619), कपिल देव (434) और हरभजन सिंह (417) इस मुकाम पर पहुंचे थे। अश्विन से पहले यह उपलब्धि हासिल करने वाले स्पिनरों में मुथैया मुरलीधरन (800), शेन वॉर्न (708), कुंबले, रंगना हेराथ (433) और हरभजन शामिल हैं।

इस मामले में मुरली को थोड़ा पीछे

अश्विन ने टेस्ट डेब्यू करने के 9 साल और 109 दिन के बाद 400 टेस्ट विकेट पूरा किया। इस लिस्ट में ऑस्ट्रेलिया के पूर्व तेज गेंदबाज ग्लेन मैक्ग्रा सबसे आगे हैं। उन्होंने 8 साल 341 दिन में अपना 400वां टेस्ट विकेट हासिल किया था। श्रीलंका के पूर्व दिग्गज मुरलीधरन ने 9 साल 137 दिन में ऐसा किया था। अश्विन इस लिस्ट में दूसरे स्थान पर पहुंच गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *