कोरोना से जंग: उत्तर प्रदेश में दोगुना होगी कोविड अस्पतालों की संख्या

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ते जा रहे हैं। पिछले 24 घंटे में प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों के 275 मामले सामने आए हैं। अब तक 7445 कोरोना पॉजिटिव मरीज पाए जा चुके हैं। इनमें 2012 प्रवासी श्रमिक संक्रमित हुए हैं। वहीं 4410 मरीज डिस्चार्ज होकर घर जा चुके हैं। इसके साथ ही इस बीमारी से मरने वालों का भी आंकड़ा बढ़ता जा रहा है। पूरे प्रदेश में 202 लोगों की जान इस बीमारी के कारण जा चुकी है।

प्रदेश में लगातार कोरोना के बढ़ रहे आंकड़ों के बीच योगी सरकार ने एल-1 के कोविड अस्पतालों की तादाद दोगुनी करने का फैसला किया है। ये बेड उन 20 जिलों में बढ़ाए जाएंगे, जहां कोरोना वायरस के ज्यादा मरीज पाए जा रहे हैं। इसके साथ ही ऐसे जिले जहां जिस तादाद में प्रवासी श्रमिकों आ रहे हैं, उस हिसाब से वहां बेड कम हैं। 20 जिलों लेविल-1 के 245 कोविड केयर सेंटरों में लक्षण वाले मरीजों के साथ ही क्वारंटाइन बेड भी बनाए गए हैं। इनमें अब तक 11,423 मरीज भर्ती हैं।

अब तक एल-1 के कोविड अस्पतालों में 21,075 बेड बनाए गए हैं। अब इन अस्पतालों में 21,000 और बेड बढ़ाए जाएंगे। इस सिलसिले में चिकित्सा व स्वास्थ्य विभाग के प्रमुख सचिव अमित मोहन प्रसाद ने मंडलायुक्त समेत सभी डीएम, सीएमओ और चिकित्सा अधीक्षकों को आदेश जारी कर दिए हैं। श्री प्रसाद ने सभी सीएमओ को निर्देश दिए हैं कि वे वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारियों के साथ कोविड केयर सेंन्टरों का निरीक्षण कर वहां 21 हजार बेड जल्द बनाकर शासन को सूचित करें।
जिन जिलों में बेड बढ़ाए जाने हैं, वे हैं

  • आगरा, मथुरा, अलीगढ़, आजमगढ़, बाराबंकी, बरेली, गोरखपुर, झांसी, कानपुर नगर, लखनऊ, उन्नाव, मेरठ, गौतमबुद्ध नगर, गाजियाबाद, मुरादाबाद, प्रयागराज, मुजफ्फरनगर, सहारनपुर, जौनपुर और वाराणसी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *