अनामिका प्रकरण: मास्टरमाइंड का भाई गिरफ्तार, कई और खुल सकते हैं बड़े राज

कासगंज। कसगंज पुलिस को अनामिका शुक्ला प्रकरण कांड में बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। जांच पड़ताल कर रही पुलिस टीम ने पूरे प्रकरण के मास्टरमाइंड के भाई को मैनपुरी से गिरफ्तार किया है। पुलिस की पूछताछ में सामने आाया कि गिरफ्तार आरोपी भी शिक्षक है। गुरुवार पुलिस टीम उसे लेकर सोरों कोतवाली पहुंची है, जहां उससे पूछताछ की जा रही है।

सूत्रों की माने तो पुलिस पूछताछ में कई शिक्षा विभाग के कई बड़े अधिकारियों के नाम भी उजागर हो सकते हैं। हालांकि, अभी उनसे पूछताछ की जा रही है। कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय फरीदपुर में अनामिका शुक्ला के नाम से पढ़ा रही फर्रुखाबाद की सुप्रिया को पुलिस ने गिरफ्तार किया था। पूछताछ में उसने मैनपुरी निवासी राज और अमरकांत के नाम बताए। राज ने उसको अनामिका के दस्तावेज डेढ़ लाख रुपये में बेचे थे।

मास्टरमाइंड शिक्षक है, लेकिन उसकी कोई फोटो आदि न होने से पहचान नहीं हो पा रही है। उसकी तलाश में कासगंज पुलिस मैनपुरी में डेरा डाले हुए है। इस बीच पुलिस ने उसके भाई जसवंत को गिरफ्तार किया है। यह शिक्षक के रूप कन्नौज जिले में तैनात है। पुलिस का कहना है कि जसवंत की नौकरी में लगे दस्तावेज फर्जी हो सकते हैं।

उधर, प्रदेश भर में अनामिका नाम से नौकरी करने वाली फर्जी शिक्षिकाओं का भंडाफोड़ हुआ तो गोंडा में असली अनामिका वहां बीएसए के सामने पेश हो गई। वो आज तक बेरोजगार है। मास्टरमाइंड शिक्षक के तार गोंडा के कॉलेजों से भी जुड़े हैं। वो घर बैठे गोंडा से डिग्री दिलाने में भी माहिर बताया जा रहा है। बताया गया कि वह सुप्रिया को नौकरी दिलाने के बाद गोंडा के एक कॉलेज से बीएड भी करा रहा था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *