IPL 2020 के बाद VIVO अब प्रो कबड्डी लीग और बिग बॉस से भी हुआ आउट

चाइनीज स्मार्टफोन मेकर वीवो (Vivo) ने IPL 2020 के टाइटल स्पॉनसरशिप से बाहर होने के बाद दो और टाइटल स्पॉनसरशिप से अलग होने का फैसला किया है। यह जानकारी मामले से जुड़े सूत्रों ने दी है। माना जा रहा है कि वीवो अब प्रो कबड्डी लीग (PKL) और टेलीविजन शो Bigg Boss के टाइटल स्पॉनसरशिप से हट चुकी है।

प्रो कबड्डी लीग को हर साल 60 करोड़

प्रो कबड्डी के लिए वीवो हर साल का 60 करोड़ और टेलीविजन शो बिग बॉस के लिए हर सीजन के लिए वह 30 करोड़ रुपये चुका रही थी। सूत्रों के मुताबिक, भारत और चीन टेंशन के कारण कंपनी के मैनेजमेंट ने फैसला किया है कि वह इस साल ब्रांडिंग और प्रमोशन पर ज्यादा खर्च नहीं करेगी। कंपनी का फोकस रीटेल डिस्काउंट के जरिए प्रॉडक्ट बेचने पर होगा। जब तक दोनों देशों के बीच हालात सामान्य नहीं हो जाते हैं, तब तक वह इसी स्ट्रैटिजी के साथ आगे बढ़ने के बारे में सोच रही है।

प्रो कबड्डी लीग टाइटल स्पॉनसरशिप से भी बाहर

वीवो के प्रो कबड्डी लीग टाइटल स्पॉनसरशिप की बात करें तो 2017 में उसने स्टार इंडिया के साथ पांच सालों के लिए 300 करोड़ में डील साइन (2017-2021) की थी। कोरोना महामारी के कारण 2020 में कबड्डी लीग कैंसल कर दी गई है। ऐसे में कंपनी ने स्टार इंडिया को डील टर्मिनेशन के लिए संपर्क किया है।

हर साल 1000 करोड़ प्रमोशन पर खर्च करती है वीवो

वीवो ने कलर्स चैनल, जिसपर बिग बॉस शो आता है, उसके साथ 2019 में दो सालों के लिए 60 करोड़ में स्पॉनसशिप डील साइन की थी। कंपनी ने BCCI के साथ 2190 करोड़ की मेगा डील (2018-2022 तक के लिए) की थी। हर साल यह ब्रांडिंग और प्रमोशन पर 1000 करोड़ के करीब खर्च करती है, जिसमें 440 करोड़ सालाना BCCI को और 120-150 करोड़ आईपीएल मैच के दौरान खर्च किए जाते हैं।

आईपीएल के इस सीजन से वीवो बाहर

इस साल IPL-13 को भारत के बाहर सितंबर में यूएई में करवाया जा रहा है। BCCI और वीवो की तरफ से गुरुवार को संयुक्त बयान जारी कर कहा गया कि दोनों ने मिलकर इस पार्टनरशिप को 2020 में विराम देने का फैसला किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *